Hindi News Portal

लखनऊ आओ… खाओ, पियो मस्त रहो…

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

पेश है टी टाइम्स ग्रुप के विशेष संमवाददाता स्पर्श दीक्षित की स्पेशल रिपोर्ट


प्राचीनकाल से हमारे भारत में अतिथि देवो भव का संस्कार बहुत ही प्रचलित रहा और जब भी हिंदुस्तान की सरजमी पर विदेशी मेहमान कदम रखते तो उनके सामने कई लजीज व्यंजनों को पेश करके उनकी खिदमत की जाती थी, इस सिलसिले में लखनऊ शहर का भी एक बहुत महत्वपूर्ण योगदान रहा।
लखनऊ में बनने वाले ऐसे बहुत से व्यंजन है जो विश्वविख्यात है, जैसे की शाही टुकड़ा, भिंडी का सलन, लखनवी बिरयानी, मलाई की गिलौरी, शीरमाल, मक्खन मलाई, गलौटी कबाब, सेंवई, लखनवी पान एवम कचौड़ी लेकिन आज हम चर्चा करेंगे लखनऊ शहर की एक ऐसी हस्ती के बारे में जो सदियों पुरानी इस पाक कला को संजोये है और जिन्होंने शेफ के रूप में भारत वर्ष में लखनऊ को बहुत ख्याति दिलवायी।

ऐसे की शुरुवात:

पेशे से हाउसवाईफ 50 वर्षीय श्रीमती सतविंदर चँधोक बताती है की वैसे तो वे बाल्काल से ही खाना बनाने की बेहद शौखीन थी लेकिन उनकी प्रोफेशनल शुरूवात श्री नजीब द्वारा निर्मित लखनऊ फूडीज नामक ग्रुप से की जहां उन्होंने अपने पाक कलाओ के नमूनों को पेश किया और ग्रुप में जुड़े लाखों लोग उनके फैन हो गये।

पेश है उनकी अत्यंत विख्यात रेसेपी

कितने लोगों के लिए : 4-5
समय : 15 से 30 मिनट
मील टाइप : वेज

आवश्यक सामग्री

  • 550 ग्राम पनीर दो बड़े प्याज, कटे हुए
  • दो चम्मच लहसुन-अदरक का पेस्ट.
  • दो कप क्रीम (मलाई), लो फैट
  • दो चम्मच धनिया पाउडर
  • आधा चम्मच कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर
  • 1/2चम्मच हल्दी पाउडर
  • 1/4 चम्मच गरम मसाला पाउडर
  • 1/4 चम्मच कसूरी मेथी, पिसी हुई
  • स्वादानुसार नमक
  • तेल

सजावट के लिए

हरी धनिया पत्तियां, बारीक कटी

विधि

  • पनीर को चौकोर टुकड़ों में काट लें.
  • अब पैन में तेल डालकर गैस पर गर्म करने रखें. इसमें प्याज डालकर मध्यम आंच पर हल्के ब्राउन होने तक फ्राई करें.
  • इसके बाद प्याज में लहसुन-अदरक का पेस्ट डालकर कुछ सेकेंड तक पकाएं.
  • जब पेस्ट की कच्ची खुशबू आना बंद हो जाए तो आंच धीमी करके इसमें धनिया, लाल मिर्च और हल्दी पाउडर डालकर चलाएं.
  • कुछ सेकेंड मसालों को पकाने के बाद इसमें पनीर के टुकड़े डालकर मिक्स करें.
  • इसके बाद पैन में क्रीम डालें और चलाएं. इसे 2 से 3 मिनट तक मध्यम आंच पर पकाएं.
  • अब पनीर में नमक, गरम मसाला और कसूरी मेथी डालकर मिलाएं.
  • इसके बाद गैस बंद कर दें. तैयार है मलाई पनीर. इसे हरी धनिया पत्तियों से गार्निश करके गर्मागर्म रोटी, नान के साथ सर्व करें.

सिबा चीटालिया मास्टरशेफ की रही विनर

प्रतिवर्ष सँचालित किये जाने वाले मास्टर शेफ एक विख्यात पाकक्षेत्रिय प्रतिस्पर्धा है जिसको मशहूर शेफ पंकज भदौरिया के संरक्षण में संचालित किया जाता है और पिछले वर्ष श्रीमति सतविंदर ने इसमें प्रथम स्थान प्राप्त कर लखनऊ के गौरव को नई बुलंदियों तक पहुंचाया।

संजीव कपूर को मानती है गुरु

भारत के मशहूरें शेफ श्री संजीव को अपना गुरु मानती है और कहती है की संजीव सदा से उनकी प्रेरणा रहे और संजीव से उनको बेहद संजीदा चीजें सीखने को मिली जो की वाकई इस छेत्र में दुर्लभ है।

खास है कछुआ

अत्यंत भावुकता पर लगाम लगाते हुए श्रीमति चंधोक टेबल पर रखे शीशे के कछुए की तरफ इशारा करते हुए बताती है की की सभी पुरुस्कारो में यह पुरुस्कार उनके लिये सबसे खास है क्योंकि ये उनके पतिदेव श्री रविंदर सिंघ ने उन्हे अच्छा खाना बनाने के लिये पहली बार दिया था और ये उनके वैवाहिक जीवन का भावुक पल था।

देती है फ्री क्लासेस

अपने पाककौशल के लिये मशहूर श्री मति चँधोक सभी महिलाओ के बीच काफी लोकप्रिय है और वे सभी महिलओं को प्रोफेशनल खाना बनाने की ट्रेनिंग देती है जो की बिल्कुल फ्री है।

खाओ पियो मस्त रहो।

श्री मति सतविन्दर कहती है की खाना बनाने से उनको ईश्वरीय आनन्द की अनुभूति होती है और इसी कारण से आज वो यहां तक पहुंची है, बाकी उनका यही संदेश है की व्यक्ति को सदेव मानसिक तनाव से दूर रहते हुए खा पी कर मस्त रहना चाहिये।

 

स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी की स्मृति में सरकार को स्मारक बनाना चाहिए?

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More