कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के लाला लाजपत राय चिकित्सालय (Hailat Hospital) के इंटेसिव केयर यूनिट (आईसीयू) की व्यवस्थाएं जहां शुक्रवार दोपहर सामान्य हो गईं, वहीं कानपुर के जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने एसी खराब होने की वजह से हुई पांच मौत मामले की जांच के लिए शासन के निर्देश पर चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया है।
कमेटी को पूरे मामले की जांच कर 24 घंटे में रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। यह कमेटी जांच करके पता लगाएगी कि आईसीयू में भर्ती मरीजों की मौत किस कारण से हुई थी। बता दे कि हैलट हॉस्पिटल में अचानक आईसीयू का एसी प्लांट खराब हो गया था। इस वजह से वार्ड में भर्ती पांच मरीजों की मौत हो गई।
हैलट के आईसीयू में चार बच्चों समेत 11 मरीज भर्ती थे। अस्पताल प्रशासन ने मौत की जांच के आदेश दे दिए हैं। बताया जा रहा है कि एसी में पिछले कई दिनों से खराबी देखने को मिल रही थी। जिसके बाद उसे ठीक कर दिया जाता था लेकिन गुरुवार सुबह आईसीयू के सारे एसी बंद हो गए।
kanpur four member team formed to investigate the cause of death of patients
kanpur four member team formed to investigate the cause of death of patients
इस मामले में आईसीयू प्रभारी डॉ. सौरभ अग्रवाल का कहना है कि बीते 24 घंटे में पांच मरीजों की मौत हुई है, मगर एसी फेल होने से नहीं। तीन मरीजों की मौत हार्ट अटैक से हुई जबकि दो मरीज काफी गंभीर थे। उन्हें देर रात न्यूरोसर्जरी आईसीयू में शिफ्ट करने की तैयारी की जा रही थी।
वहीं पांच मरीजों की मौत का मामला गर्मा गया है। आनन-फानन में कानपुर के डीएम ने 2 एसी मंगवाकर व्यवस्थाओं को संभाला। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रथम दृष्टया एसी रखरखाव करने वाली फर्म की लापरवाही प्रतीत होती है। उसकी वजह से समस्या विकराल हुई है। फिलहाल रात में दो टावर एसी लगवा दिए हैं। छह और की व्यवस्था करवा दी है, आज ही लग जाएंगे।
उन्होंने कहा कि वेंटिलेटर और अन्य महत्वपूर्ण चिकित्सा उपकरण हैलट के आईसीयू में अब काम कर रहे हैं। कल एसी सिस्टम काम नहीं कर रहा था लेकिन आज स्थिति सामान्य हो गई है। उधर शासन के निर्देश पर डीएम ने इस मामले की जांच के लिए 4 सदस्यीय समिति गठित की गई है।
यह चार सदस्यीय समिति में एक शासन के अधिकारी, एक प्रशासनिक अधिकारी, एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर और एक चिकित्सक को रखा गया है। यह टीम 24 घंटे में जांच कर शासन को रिपोर्ट सौंपेगी। आईसीयू में एसी खराब होने से मौत हुई या नहीं, जीवन रक्षक उपकरण खराब हुए या नहीं इन सभी पहलुओं की जांच करेगी।
आय से अधिक संपत्ति मामले में नोएडा प्राधिकरण के एपीई निलंबित
योगी के प्रमुख सचिव घूस प्रकरण की हो सीबीआई जांच: अखिलेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here