भदोही। उत्तर प्रदेश की बहराइच से सांसद सावित्री बाई फूले भाजपा यानी भगवा को बाय-बाय कह कांग्रेस को गले लिया हो, लेकिन उनका भगवा प्रेम अभी कायम है। पूर्वांचल दौरे में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ बोट यात्रा और मंच पर भी वह साथ-साथ दिख रही हैं। प्रियंका गांधी जहां सामान्य हरी और लाल साड़ी में हैं वहीं वह भगवान सूट में दिखती हैं। हालांकि मोदी सरकार पर हमला बोलने में वह पीछे नहीं दिखती।
प्रियंका गांधी बहराइच की सांसद और फायरब्रांड नेता साबित्री बाई फूले को अपना चुनावी साथी बनाया है। इससे वह साबित करना चाहती हैं कि वह दलितों के सबसे अधिक नजदीक हैं। क्योंकि सासंद सावित्री बाई दलितों के विकास को लेकर काफी आक्रामक रुख रखती हैं। जिसकी वजह है कि वह प्रियंका के पूर्वांचल दौरे में साथ-साथ हैं। साबित्री बाई प्रयागराज में वोट में प्रियंका के साथ सवार हुई और भदोही आयी और मंच पर एकदम प्रियंका गांधी वाडरा के बगल की कुर्सी पर बैंठी।
प्रियंका गांधी इस दौरान उनसे खूब-घूली मिली दिखी। हालांकि प्रियंका की सादगी लोगों को पंसद आ रही है। वह चुनावी हमलों में तीखे भाषण और फिजूल के मसले उठाने से बच रहे हैं। अपने संबोधनों में प्रियंका खुद कह चुकी है कि चुनाव में फिजूल के मसलों से बचना चाहिए। वह सीधी और सरल भाषा में लोगों के बीच अपनी बात रख रही हैं। बोट से गुजरते समय जब लोग गंगा के किनारे खड़े होकर प्रियंका गांधी के नारे लगा रहे होते हैं तो वह सवाल पूछती हैं आपने कैसे मुझे पहचाना।
बाद में दूसरी तरफ से उत्तर आने पर वह ध्यान बाद देना भी नहीं भूलती। अपनी इस यात्रा में वह पूर्वांचल की संस्कृति और संस्कार का भी पूरा खयाल रखते दिखी। प्रयागराज में संकट मोचन दर्शन के दौरान सिर पर उन्होंने पल्लू रखे थी। वह अधिकतर सादे और सामान्य कपड़े पहने दिखी। हरे और लाल रंग की साड़ी उनकी पंसद है। चेहरे में पर हल्की मुस्कुराहट लोगों को प्रभावित करती दिखती है, लेकिन यह वोट में कितना परिवर्तित होगी यह समय बताएगा।
हम प्रदेश का परसेप्शन बदलने में सफल रहे: योगी
फिर सुर्खियों में हरगांव नगर पंचायत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here