विकास के लिए हवाई कनेक्टिविटी अपरिहार्य : मुख्यमंत्री

कानपुर। कानपुर-दिल्ली के बीच हवाई उड़ान सेवा का मंगलवार को शुभारम्भ हो गया। यह सेवा भारत सरकार की उड़ान योजना के तहत प्रारम्भ की गयी है। इस योजना के अन्तर्गत अब तक देश के 50 शहरों को हवाई सेवा से जोड़ा गया है। कानपुर-दिल्ली के बीच हवाई उड़ान सेवा स्पाइस जेट द्वारा शुरु की गयी है।
इस अवसर पर कानपुर एयरपोर्ट पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास के लिए हवाई कनेक्टिविटी अपरिहार्य बन गयी है। कानपुर जैसे औद्योगिक शहर को इसकी बहुत आवश्यकता थी। इस सेवा के प्रारम्भ हो जाने से यहां के विकास को गति मिलेगी। इस सेवा के शुरू होने के साथ ही, कानपुरवासियों का एक सपना आज पूरा हुआ है।
केन्द्रीय नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु का ध्यान आकर्षित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि घरेलू उड़ान के लिए हिंडन/जेवर एयरपोर्ट में सिविल टर्मिनल बनाया जा सकता है, इससे आईजीआईएपी, दिल्ली पर हवाई यातायात का दबाव कम होगा।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद वाराणसी एवं कानपुर की फ्लाइट को हिंडन एयरपोर्ट से जोड़ा जा सकता है। गाजियाबाद से दिल्ली तक फ्लाई ओवर बन जाने से दिल्ली पहुंचने में अब बहुत कम समय लग रहा है, जबकि आईजीआईएपी से अधिक समय लगता है। उन्होंने कहा कि कानपुर को देश के प्रमुख शहरों जैसे सूरत, अहमदाबाद, बंगलोर, मुम्बई, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकत्ता आदि से हवाई सेवा से जोड़ने पर यहां के व्यापारियों को काफी लाभ मिलेगा।
मुख्यमंत्री ने स्पाइस जेट के सीएमडी अजय सिंह से प्रदेश के प्रमुख शहरों से स्पाइस जेट की हवाई सेवाएं शुरू करने का आह्वान किया। इसके लिए प्रदेश सरकार पूरा सहयोग करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी इन्वेस्टर्स समिट-2018 के दौरान प्रधानमंत्री की परिकल्पना एवं सुझाव पर डिफेंस कॉरिडोर पर कार्य तेजी से चल रहा है।
कानपुर को केंद्र में रखकर आसपास के जनपदों के विकास हेतु प्रदेश सरकार द्वारा नीति का अनुमोदन कर दिया गया है। अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने गंगा जी की अविरलता, निर्मलता एवं स्वच्छता के लिए सबके एकजुट होकर प्रयास करने की आवश्यकता पर भी बल दिया।

माह जून, 2018 में एविएशन सेक्टर में हुई 20 प्रतिशत बढ़ोत्तरी : सुरेश प्रभु

केंद्रीय वाणिज्य, उद्योग एवं नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने अपने संबोधन में कहा कि इस हवाई उड़ान से कानपुर के व्यापारियों को लाभ मिलेगा। माह जून, 2018 में एविएशन सेक्टर में 20 प्रतिशत बढ़ोत्तरी हुई। किसानों को उनके उत्पाद का उचित मूल्य दिलाने के लिए देश भर में कार्गो हब बनाने का कार्य चल रहा है।
उत्तर प्रदेश के सभी हवाई अड्डों पर राज्य के स्थानीय उत्पादों को प्रदर्शित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर से नेपाल के लिए शीघ्र हवाई सेवा प्रारम्भ की जाएगी। कार्यक्रम को केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, सांसद मुरली मनोहर जोशी, सीएमडी स्पाइस जेट अजय सिंह ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता ‘नंदी’ सहित जनप्रतिनिधिगण एवं शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
आयुष्मान भारत योजना की प्रगति की हुई समीक्षा, सीईओ ने अधिकारियों को दिए निर्देश
धमकी मामले में 20 दिन में मुलायम की आवाज का नमूना लिया जाये: कोर्ट     

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here