लखनऊ। एसटीएफ, उत्तर प्रदेश ने शनिवार देर रात अपहरण कर हत्या के अभियोग में वांछित रणदीप भाटी गैंग के कुख्यात सदस्य दस हजार रूपये के इनामी अपराधी भगत सिंह व एक अन्य अभियुक्त को गिरफ्तार किया है।
एसटीएफ उ.प्र. के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर एसटीएफ की टीम ने शनिवार देर रात स्थानीय थाना बादलपुर की पुलिस के सहयोग से ग्राम धूम मानिकपुर बाईपास तिराहा थाना बादलपुर पर घेराबंदी करके अभियुक्त भगत सिंह एवं उसके साथी अभियुक्त गौरव को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया।
गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से 02 तमन्चा 315 बोर, 03 कारतसू 315 बोर, 02 खोखा कारतूस 315 बोर और 01 होण्डा सिटी कार नं0-डीएल-7सीएफ/2218 बरामद किया है। जनपद गौतमबुद्धनगर निवासी भगत सिंह दस हजार रूपये का पुरस्कार घोषित अपराधी है।
गिरफ्तार अभियुक्तों को थाना बादलपुर, गौतमबुद्धनगर में दाखिल किया गया है और अग्रिम विधिक कार्यवाही थाना बादलपुर पुलिस द्वारा की जा रही है। एसटीएफ के मुताबिक, 04/05 जनवरी 2019 की रात को दादरी कस्बे से धर्मेन्द्र उर्फ धर्मी को फार्चूनर व स्कार्पियो कार सवार बदमाशों ने अपहरण करके हत्या कर शव को रूपवास गोल चक्कर के पास फेंक दिया था।
04 जनवरी को दादरी कस्बे में गाड़ी को साइड देने को लेकर धर्मी व विवेक निवासी सुनपुरा का आपस में विवाद हुआ था। विवेक रणदीप भाटी गैंग के सक्रिय सदस्य व खनन माफिया भूपेन्द्र निवासी मोमनाथन का रिश्तेदार है।
विवेक ने झगडे़ की सूचना भूपेन्द्र को दी, भूपेन्द्र एवं रणदीप भाटी ने अपने गुर्गो बबली नागर निवासी सादुल्लापुर व रोपी निवासी जुनपत के माध्यम से मृतक धर्मेन्द्र उर्फ धर्मी को फोन पर धमकाने व दबाव बनाने का प्रयास किया जिसका धर्मेन्द्र उर्फ धर्मी ने विरोध किया।
इस पर भूपेन्द्र मोमनाथन, बबली नागर, रोपी जुनपत व रणदीप भाटी का साला निन्दर अपने 08-10 साथियों के साथ फार्चूनर व स्कार्पियो कार में सवार होकर दादरी स्थित धर्मेन्द्र उर्फ धर्मी के घर पहुॅचे तथा हथियारों के बल पर धर्मी का अपहरण कर गाड़ी में डालकर ले गये थे और रात्रि में हत्या करके शव को रूपवास के समीप बाईपास किनारे फेंक दिया।
इस घटना में संलिप्त अभियुक्त विवेक पुत्र जयवीर निवासी सुनपुरा थाना इकोटेक-3 ग्रेटर नोएडा, गौतमबुद्धनगर व ज्ञानेन्द्र पुत्र नत्थी सिंह निवासी सुनपुरा थाना इकोटेक-3 ग्रेटर नोएडा, गौतमबुद्धनगर को 09 जनवरी 2019 को तथा अभियुक्त भूपेन्द्र पुत्र संजय नि0 ग्राम मोमनाथन थाना नालेज पार्क, गौतमबुद्धनगर, जिसपर इस घटना में वांछित होने पर जनपद गौतमबुद्धनगर से 25000 रूपये का इनाम घोषित था, को एसटीएफ की नोएडा टीम ने 06 फरवरी 2019 को 04 अन्य अभियुक्तों सहित गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था।
फतेहपुर संसदीय सीट: कांग्रेस के प्रयोगों ने बदल दी राजनीति की सीरत! 
23 मई होगा सपा-बसपा गठबंधन का आखिरी दिन: उप मुख्यमंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here