Tevar Times
Online Hindi News Portal

यूपी के हर जिले में प्रवासी पक्षियों के लिए बनेगा वेटलैण्ड

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजीव कुमार ने निर्देश दिये हैं कि प्रवासी पक्षियों के वास स्थल एवं पर्यटन केन्द्र के रूप में विकसित करने के लिए प्रदेश के प्रत्येक जनपद में एक-एक वेटलैण्ड (Wetland ) आवश्यकतानुसार स्थापित कराने के लिए सिंचाई, वन एवं भूमि संरक्षण विभाग के अनुभवी अधिकारियों की एक टीम गठित की जाये।

"<yoastmark

उन्होंने कहा कि गठित टीम द्वारा स्थानीय आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए आगामी वित्तीय वर्ष-2018-19 के लिये भारत सरकार को स्वीकृत के लिए लगभग 100 करोड़ रूपए का वेटलैण्ड (Wetland) का प्रस्ताव बनाकर प्रस्तुत किया जाये।

उन्होंने यह भी निर्देश दिये हैं कि आम नागरिकों को वेटलैण्ड स्थापित होने से प्राप्त होने वाली सुविधाओं एवं पर्यावरण तथा जल संरक्षण हेतु जागरूक कराया जाये।

यह भी पढ़े:- अटल ने सही मायनों में रखी आज़ाद भारत के विकास की नींव : मुख्यमंत्री

मुख्य सचिव आज शास्त्री भवन स्थित अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में राज्य स्तरीय वेटलैण्ड स्टीयरिंग कमेटी की 11वीं बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिये हैं कि सिंचाई, वन एवं भूमि संरक्षण विभाग के अनुभवी अधिकारियों की गठित टीम द्वारा तैयार किये गये परियोजनाओं का विस्तृत विवरण आगमी 02 माह में बैठक आयोजित कर प्रस्तुत की जाये।

उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि वेटलैण्ड स्टीयरिंग कमेटी की बैठक में पंचायती राज, राजस्व सहित अन्य सम्बंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को विशेष आमंत्री के रूप में अवश्य आमंत्रित किया जाये।

यह भी पढ़े:- भाजपा सरकार को अखिलेश की प्रशंसा में दो शब्द बोलना भी गंवारा नहीं : सपा

श्री कुमार ने यह भी निर्देश दिये हैं कि कीटनाशक दवाओं के छिड़काव एवं प्रदूषण से वेटलैण्ड को बचाने हेतु आवश्यकतानुसार गोष्ठियाँ कराकर अथवा आवश्यक सूचनाओं के बोर्ड लगाकर आम नागरिकों को आवश्यक जानकारियाँ उपलब्ध कराई जायें, ताकि प्रवासी पक्षियों को किसी प्रकार का नुकसान न होने पाये। बैठक में सचिव वन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More