• ब्लास्ट में बरामद हुए थे हैंडग्रेनेड, भाजपा विधायक ने एडीजी को सौंपे थे तीन
भदोही। उत्तर प्रदेश के भदोही के चौरी में 23 फरवरी को हुए विस्फोट मामले में भाजपा विधायक रविंद्रनाथ त्रिपाठी ने बड़ा खुलासा किया है। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में उन्होंने दावा किया है कि घटना स्थल से कुल 12 हैंडग्रेनेड बरामद किए गए थे। तीन ग्रेनेड हमने खुद एडीजी वाराणसी परिक्षेत्र पीवी रामाशास्त्री को सौंपे थे।
विधायक ने अपने दावे में साफ तौर पर कहा है कि यह सामान्य पटाखा विस्फोट नहीं एक आतंकी घटना की साजिश है। जिले में काफी संख्या में बंग्लादेशी हैं जो गलत कार्य में संलिप्त हैं, हम उनके खिलाफ अभियान चलाने जा रहे हैं। हालांकि पुलिस इस बात की पुष्टि नहीं कर रही है।
विधायक के इस बयान के बाद भदोही जिला पुलिस प्रशासन का गला फंस गया है। अभी तक पुलिस इसे सामान्य विस्फोट होने का दावा करती रही है। विधायक ने कहा है मलबा हटाने के लिए हमने खुद तीन जेसीबी की व्यवस्था कराई।

वहां कुल 12 हैंडग्रेनेड मिले जिसमें नौ को पुलिस ने रखा था। जबकि एक व्यापारी ने हमें एक वीडियो दिखाया। उसी दौरान एडीजी वहां पहुंचे जब हमने उन्हें यह वीडियो दिखाया तो वह घबरा गए और बोले चलिए उसे लिया जाए।
हमने खुद व्यापारी से तीन हैंडग्रेनेड लेकर एडीजी को सौंपे जिसके बाद वह पास खड़ी डायल-100 की गाड़ी की एक सीट पर बैठ गए और उसे छुपा दिया। भदोही पुलिस घटना पर पर्दा डालने का काम कर रही है। यह कोई सामान्य घटना नहीं बड़ी आतंकी साजिश की तरफ इशारा करती है।
रविवार को यह वीडियो विधायक की फेसबुक वाल पर भी है। उन्होंने दावा किया है कि उसमें पिन डालने का स्थान भी बना था। उसमें लालरंग की वस्तु भी लगी थी। चौरी में भारी संख्या में बंग्लादेश अवैध रुप से है जो असामाजिक गतिविधयों में संलिप्त हैं। हमने पुलिस अधीक्षक भदोही से इस पर कार्रवाई की मांग की है।
अर्जुनपुर पुल को लेकर सत्ता पक्ष के दबाव में लिखा  आंदोलनकारियों पर झूठा मुकदमा: राजवर्धन सिंह "राजू"
पाकिस्तान पर भारतीय सेना की कार्यवाही के बाद मुरादाबाद में जश्न

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here