Tevar Times
Online Hindi News Portal

राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में ही होना चाहिए: वसीम रिजवी

0
फैजाबाद-अयोध्या। अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी रविवार को फैजाआद पहुंचे और अयोध्या में महंत नृत्य गोपाल दास से उनके जन्मदिन पर मुलाकात की। यहां उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए दस हजार रुपए दान में दिए और महंत नृत्यगोपाल दास से आशीर्वाद लेने के बाद श्री राम जन्मभूमि कार्यशाला भी गए।
कार्यशाला पहुंचे वसीम रिजवी ने कहा कि एक मुकदमा जीतने से बेहतर है कि करोड़ों राम भक्तों के दिलों को जीता जाए। उन्होंने कहा कि सेक्युलर मुसलमान होने के कारण आज राम जन्म भूमि कार्यशाला आए हैं। उन्हांने 10 रुपए का दान देते हुए कहा कि वह अपनी हैसियत के अनुसार दान करेंगे। मंदिर निर्माण के लिए मेरी ओर से यह छोटी सी भेंट मोहब्बत का बहुत बड़ा पैगाम है।
Wasim Rizvi Donate Ten Thousand Rupee For Ram Mandir
Wasim Rizvi Donate Ten Thousand Rupee For Ram Mandir
उन्होंने कहा कि यह देश मोहब्बत और भाईचारे से चलेगा। मंदिर का निर्माण शुरू होते ही देश का सेकुलर मुसलमान बढ़-चढ़कर दान करेगा। वसीम ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में ही होना चाहिए। राम मंदिर अयोध्या में नहीं तो क्या सऊदी अरब में बनेगा? अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि है। यहां मस्जिद की कोई जरूरत नहीं। उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण किसी भी तरीके से अयोध्या में होना चाहिए।
उन्हांने कहा कि हिंदुस्तान के सेक्युलर मुसलमान चाहते हैं कि विवाद खत्म हो जाए और अयोध्या में राम मंदिर बने। उन्होंने मंदिर निर्माण के खिलाफ कोर्ट में खड़े लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मुसलमानों के लिए मुकदमा जीतने से ज्यादा बेहतर है कि करोड़ों हिंदू भाइयों का दिल जीता जाए।
वसीम रिजवी ने अयोध्या में राम मंदिर और लखनऊ में भव्य मस्जिद बनाने का प्रस्ताव रखा। मंदिर निर्माण का विरोध कर रहे लोगों को सख्त लहजे में उन्होंने दाऊद की तरह पाकिस्तान जाने की सलाह दी और कहा कि हमने कोर्ट में प्रस्ताव दिया है कि लखनऊ में मस्जिद-ए-अमन बन जाए। रिजवी राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास के जन्मोत्सव कार्यक्रम में भी शामिल हुए और महंत का आशीर्वाद लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More